February 20, 2024
Gohana

किसानों का गन्ने की फसल से मोहभंग, धान की तरफ बढ़ा मोह

गन्ने की फसल का फोटो

आहुलाना चीनी मिल का गन्ने की फसल का रकबा घटा
-आहुलाना मिल की 6434 एकड़ गन्ने की फसल हुई कम
हरियाणा उत्सव, गोहाना (भंवर सिंह)

गांव आहुलाना स्थित चौ. देवीलाल सहकारी चीनी मिल का गन्ने की फसल का रकबा कम हुआ है। पिछले पेराई सिजन की अपेक्षा इस बार हजारों एकड़ गन्ने की फसल का रकबा कम हुआ है। इस साल गन्ने की फसल से किसानों का मोहभंग हो गया, लेकिन धान की फसल के अच्छे भाव होने के कारण किसानों को धान की फसल लुभा रही है।
चीनी मिल को पिछले वर्ष के अपेक्षा इस बार गन्ना कम मिलेगा। क्षेत्र के किसानों ने इस बार करीब 14924 एकड़ में गन्ने की फसल उगा रखी है। जबकि पिछले वर्ष करीब 21358 एकड़ में गन्ने की फसल थी। पिछले वर्ष की अपेक्षा इस वर्ष करीब 6434 एकड़ गन्ने का रकबा घट गया है। जिससे मिल की पेराई सत्र प्रभावित होगा। मिल में चीनी का उतपादन भी प्रभावित होगा। चीनी मिल का पेराई सत्र नवंबर माह के प्रथम सप्ताह में शुरू होगा। गन्ने की पेराई के लिए चीनी मिल अधिकारियों ने बोडिंग का कार्य शुरू किया हुआ है। मिल ने इस बार 40 लाख क्विंटल गन्ने की पेराई करने का टारगेट रखा है। बीते वर्ष की तुलना में इस बार आठ लाख क्विंटल गन्ना कम है।

गन्ने की फसल का रकबा घटा

आशीष वशिष्ठ, एमडी, शुगर मिल, आहुलाना
आशीष वशिष्ठ, एमडी, शुगर मिल, आहुलाना

उपमंडल में बीते वर्ष की अपेक्षा इस बार गन्ने की खेती कम हुई है। क्षेत्र में गन्ने के रकबे के आधार पर पेराई सत्र के लिए बोंडिंग की जा रही है। इस बार 40 लाख क्विंटल गन्ने की पेराई करने का टारगेट रखा है।
आशीष वशिष्ठ, एमडी, शुगर मिल, आहुलाना

Related posts

जय बालाजी स्पोर्ट्स अकादमी के तीन खिलाडिय़ों का सेना में चयन

Haryana Utsav

योगेश्वर दत्त का दलित-पिछड़ों के खिलाफ किया गया ट्वीट वायरल

Haryana Utsav

आठ साल में भी सेक्टरों को विकसित नहीं कर सका एचएसवीपी

Haryana Utsav
error: Content is protected !!