GohanaHaryana

बरोदा हलका मेरी कर्मभूमि:डॉ. केसी बांगड़

बरोदा हलका मेरी कर्मभूमि

हरियाणा उत्सव,गोहाना
जननायक जनता पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष एवं एचपीएससी के पूर्व चेयरमैन डॉ. केसी बांगड़ ने कहा कि आपसी भाईचारा गांवों की अच्छी परंपरा रही है। गांवों की समृद्धि के लिए हमें भाईचारा बनाए रखना जरूरी है। उन्होंने यह बात गांव धनाना स्थित कंडी माता मंदिर में ग्रामीणों को संबोधित करते हुए कही। उन्होंने मंदिर के जीर्णोद्वार के लिए 51 हजार रुपये देने की घोषणा भी की।
डॉ. केसी बांगड़ ने कहा कि गांवों की संस्कृति हजारों सालों से आपसी भाईचारे का प्रतीक रही है। उन्होंने पिछले कुछ अर्से से गांव की संस्कृति में बदलाव आने लगा है। आज गांवों के लोग छोटी-छोटी बातों को लेकर आपसी झगड़ों में उलझे रहते हैं। उन्होंने कहा कि गांवों के लोग झगड़ों में न उलझकर आपसी भाईचारे की पुरानी परंपरा को और अधिक मजबूत बनाएं। एकता और भाईचारा गांवों की समृद्धि और विकास का आधार है। भाईचारे से गांवों को अपराध और विवाद मुक्त बनाया जा सकता है। डॉ. बांगड़ ने कहा कि बरोदा हलका उनकी कर्मभूमि है और वे इसकी सेवा में लगे रहेंगे। इस मौके पर भरत सिंह जाटायन, दिलबाग, दिलबाग, सत्यवान, हरिराम, बिजेंद्र शास्त्री, भागीरथ शर्मा, अनिल ढुल, वानी राठी, जगदीश, डाू. राममेहर राठी, अजमेर मलिक, मास्टर प्रकाश, संदीप, सोमबीर आदि मौजूद रहे।

Related posts

गोहाना: तीन बुलेट मोटरसाकिल के 79 हजार रुपये के चालान किए

Haryana Utsav

जल्द तैयार होगा हरियाणा पंचायत चुनाव का शेड्यूल जारी

Haryana Utsav

सामाजिक बुराईयों को दूर करने में भागीदारी निभाती है खाप पंचायतें-सोमबीर सांगवान

Haryana Utsav
error: Content is protected !!