February 29, 2024
Delhi

कोविशील्ड के दो डोज के बीच समय बढ़ाने पर पी चिदंबरम ने मोदी सरकार को घेरा, कहा – खेल न करे सरकार

कोविशील्ड के दो डोज के बीच समय बढ़ाने पर पी चिदंबरम ने मोदी सरकार को घेरा

हरियाणा उत्सव, BS Valmikin

नई दिल्ली : कोविशील्ड टीके की दो डोज की समय सीमा बढ़ाकर 12-16 सप्ताह करने पर कांग्रेस मोदी सरकार पर हमलावर हो गयी है. कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम ने कहा, जब केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार वैक्सीन के डोज की अवधि बढ़ाकर 12-16 सप्ताह कर रही है, तो वही वैक्सीन के डोज की अवधि को यूके घटाकर 8 सप्ताह कर रहा है.
उन्होंने कहा, मैं वैज्ञानिकों और विशेषज्ञों की तरह अनुमान लगाने में सक्षम नहीं हूं, लेकिन मेरी मोदी सरकार से विनम्र अपील है कि कृपया खेल न खेलें. सरकार एक जाल बिछा रही है जिसमें वैज्ञानिक और विशेषज्ञ बझेंगे और दोष उन पर डाल देगी.

गौरतलब है कि मोदी सरकार ने एक सरकारी पैनल की सलाह पर कोविशील्ड टीके की दो डोज लगवाने के बीच के समय को 6-8 सप्ताह से बढ़ाकर 12-16 सप्ताह करने का फैसला लिया है.केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने ने बताया कि यह फैसला विज्ञान आधारित फैसला है और इस विश्वास के साथ लिया गया है कि इससे कोई अतिरिक्त खतरा नहीं होगा.
सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के कोविशील्ड के दो डोज के बीच समयांतर फिलहाल 6 से 8 सप्ताह का है. हैदराबाद स्थित कंपनी भारत बायोटेक द्वारा देश में विकसित कोवैक्सीन और ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका के टीके कोविशील्ड का उत्पादन पुणे स्थित सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया द्वारा किया जा रहा है और देश में टीकाकरण में दोनों का उपयोग हो रहा है.
विभिन्न राज्यों में टीकों की कमी की खबरों के बीच केन्द्र सरकार ने यह फैसला लिया है। कुछ राज्यों और केन्द्र शासित प्रदेशों ने यह भी कहा है कि टीके की कमी के कारण उन्हें 18 से 44 साल आयुवर्ग के लोगों का टीकाकरण स्थगित करना पड़ा है.

Haryanautsav
Source-
Disclaimer: This story is auto-aggregated by a computer program and has not been created or edited by Haryanautsav/Dailyhunt. Publisher: Prabhat Khabar

Related posts

काबुल में मिनी वैन में बम विस्फोट, 4 लोगों की मौत

Haryana Utsav

बैंक जाने से पहले इस महीने में बैंक की कितनी छुट्टियां?

Haryana Utsav

व्यक्ति की मौत के बाद आधार, पैन, Voter ID और Passport का क्या करना चाहिए

Haryana Utsav
error: Content is protected !!