February 28, 2024
HaryanaSonipat

बिजली कर्मचारियों को किसानों के विरोध का करना पड़ा सामना।

फोटो- टावर लगाने का विरोध करते हुए किसान

बिजली कर्मचारियों को किसानों के विरोध का करना पड़ा सामना।
किसानों के विरोध को देखकर बेरिंग लोटे बिजली कर्मचारी।
हरियाणा उत्सव, गोहाना:
बिजली कर्मचारी व अधिकारी दल बल के साथ गांव आहुलाना के खेतों में 132 केवी की लाइन के लिए टावर लगाने गए थे, लेकिन किसानों के विरोध को देखकर बिजली कर्मचारी खाली हाथ लौट गए। बिजली कर्मचारी और किसानों के बीच जमकर विवाद हुआ। बिजली कर्मचारियों ने किसानों को 5 दिन का समय दिया है। बिजली कर्मचारी दोबारा से खेत में जाएंगे और बिजली टावर को लगाएंगे।

बिजली विभाग की गोहाना में वैकल्पिक लाइन बिछाने की योजना है । इससे गोहाना में ब्लैक आउट का समाधान होगा। यह लाइन गांव भंडेरी पॉवर हाउस से गोहाना पावर हाउस तक बिछाई जाएगी। लाइन बिछाने के बाद गोहाना में एक वैकलिपक लाइन हो जाएगा। हाल में गोहाना में रोहतक से मुख्य लाइन बिछाई गई है। इस लाइन में फाल्ट हो जाता है तो पूरा गोहाना अंधेरे की आगोश में चला जाता है। इसी अंधेरे से बचने के लिए बिजली विभाग ने अलग सोर्स(वैकल्पिक) गांव भांडेरी से निकला है।

गांव भंडेरी स्थित 132केवी पावर हाउस से गोहाना पावर हाउस तक बड़े टावरों से बिजली की लाइन बिछाई जाएगी। सोमवार को बिजली कर्मचारी गांव आहुलाना के खेतें में टावर लगने गए थे। लेकिन मौके पर किसान भी पहुंच गए। किसान और बिजली कर्मचारियों में जमकर तू-तू मैं-मैं हुई बाद में कर्मचारी और किसानों में कुछ समय देने का समझौता हुआ । जिस पर बिजली कर्मचारी वापस लौट आए। किसानों ने आरोप लगाया कि बिजली विभाग बिना मुआवजा दिए ही खेत में बिजली का बडा टावर लगाने जा रहे हैं। किसानों ने उचित मुआवजा दिए जाने और टावर को दूसरी जगह शिफ्ट करने की मांग की। मौके पर बिजली विभाग के अधिकारी और पुलिस प्रशासन भी मौजूद रहा।।

Related posts

कौनसे थाने में रिश्ते टूटने से बचाए जाते हैं

Haryana Utsav

10वीं में कंपार्टमेंट तोड़ी तो सीधा 12वीं कक्षा में मिलेगा दाखिला

Haryana Utsav

पानीपत : चार साल की बच्ची के साथ दरिंदगी

Haryana Utsav
error: Content is protected !!