Gohana

UP: इकबालपुर चीनी मिल का घेराव के लिए किसान रवाना

फोटो-7- गन्ने की पेमेंट का भुगतान करने की मांग को लेकर उत्तराखंड के लिए रवाना होते हुए किसान।

चार साल से बकाया है गन्ने की पेमेंट

हरियाणा उत्सव/ अनिल खत्री

Gohana: उत्तराखंड के मिलों से गन्ने की पेमेंट का भुगतान करने की मांग को लेकर किसान उत्तराखंड के मिलों का घेराव करेंगे। सभी किसान डा. भीमराव अंबेडकर चौक पर भारतीय किसान यूनियन के प्रदेश उपाध्यक्ष सत्यवान नरवाल के नेतृत्व में एकत्रित हुए हुए।घेराव करने के लिए गोहाना से किसान रवाना हुए।

सत्यवान नरवाल ने कहा कि वर्ष 2017 में प्रदेश के कई जिलों के किसानों ने उत्तराखंड के इकबालपुर चीनी मिल में गन्ना डाला था। चार साल के बाद भी किसानों के गन्ने का भुगतान नहीं हुआ है। बरोदा विधानसभा उपचुनाव के दौरान मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने उत्तराखंड के मुख्यमंत्री से मुलाकात कर आश्वासन दिलाया था कि किसानों को जल्दी ही पेमेंट का भुगतान करवा दिया जाएगा। मुख्यमंत्री के आश्वासन के बावजूद भी गन्ने का भुगतान नहीं हुआ है। मिल का घेराव नहीं हो इसके लिए बार-बार किसानों पर दबाव बनाया जा रहा था। लेकिन हजारों की संख्या में मिल का घेराव किया जाएगा। किसान अपने गन्ने की पेमेंट को लेकर ही वापस लौटेंगे। गन्ना किसान आर्थिक तंगी से परेशान है। कुछ किसानों ने आर्थिक तंगी से परेशान होकर आत्महत्या कर ली है। इस मौके पर संदीप मलिक, राकेश, सतीश, सुरेश आदि मौजूद रहे।

Related posts

निजी क्षेत्र में 75 प्रतिशत आरक्षण ऐतिहासिक:जोनी लठवाल

Haryana Utsav

प्रशिक्षण के बाद छात्राओं को प्रमाण पत्र दिए

Haryana Utsav

Education: गोहाना के कॉलेज में एमकॉम की 20 और एमए भूगोल की 40 सीटें बढ़ी

Haryana Utsav
error: Content is protected !!