GohanaSonipat

कोरोना की संभावित तीसरी लहर की रोकथाम के लिए वैक्सीन जरूरी: डा. आनंद अग्रवाल

Dr Anand Agrwal

-इम्यूनिटी की मजबूती के लिए खान-पान का रखें विशेष ध्यान

-बीपीएस मेडिकल कालेज के कोविड-19 क्लिनिकल इंचार्ज डा. अग्रवाल ने दी जरूरी जानकारी

हरियाणा उत्सव, सोनीपत     

बीपीएस महिला मेडिकल कालेज खानपुर कलां के प्रोफेसर एवं डिपार्टमेंट ऑफ रेसपिरेट्री मेडिसिन के हैड तथा कोविड-19 के क्लिनिकल इंचार्ज डा. आनंद अग्रवाल ने कोरोना वायरस से बचाव के लिए वैक्सिनेशन पर विशेष रूप से बल दिया है। उन्होंने कहा कि संभावित तीसरी लहर की रोकथाम की दृष्टि से भी वैक्सिनेशन जरूरी है। इसलिए हर प्रकार की अफवाहों से दूर रहकर लोगों को वैक्सीन जरूर लगवानी चाहिए।

डा. आनंद अग्रवाल ने कहा कि हमें अभी पूर्ण सावधानी बरतनी चाहिए, ताकि कोरोना पर जो नियंत्रण लगा है वह कायम रखा जा सके। विशेष रूप से अगले तीन सप्ताह तक हमें किसी भी प्रकार की लापरवाही से बचना चाहिए। कोरोना के प्लस वेरिएंट की संभावनाओं पर विराम लगाने के लिए वैक्सिनेशन जरूरी है। अभी भी देखने में आता है कि कुछ लोगों के अंदर वैक्सीन को लेकर असुरक्षा तथा अफवाहों का माहौल है। जबकि ऐसा नहीं है। वैक्सीन पूर्ण रूप से सुरक्षित है, जिसके कोई दुष्प्रभाव नहीं है। वैक्सीन लगवाने वालों में संक्रमण की शिकायत तो आ सकती है किंतु मृत्यु की संभावनाओं पर विराम लग जाता है।

कोविड-19 क्लिनिकल इंचार्ज डा. अग्रवाल ने कहा कि कोरोना वायरस के संक्रमण के फैलाव को रोकने के लिए हमें व्यर्थ की भीड़ का हिस्सा नहीं बनना चाहिए। घर से बाहर निकलते समय मास्क व सोशल डिस्टेंसिंग की अनुपालना ईमानदारी से करनी चाहिए। वैक्सीन सबसे अधिक आवश्यक है। ऐसा करके किसी और से संक्रमण को रोक सकते हैं। साथ ही हमारी ओर से भी किसी ओर में संक्रमण जाने से रोक लगेगी। उन्होंने बल दिया कि जिसने अभी तक वैक्सीन नहीं लगवाई है वह वैक्सीन अवश्य लगवाये।

डा. अग्रवाल ने संभावित तीसरी लहर पर चर्चा की की कहा जा रहा है कि इस बार बच्चे अधिक प्रभावित होंगे। उन्होंने कहा कि बच्चों की इम्यूनिटी बहुुत बेहतर होती है। किंतु संभावित तीसरी लहर आती है तो हमें कुपोषण का शिकार बच्चों का विशेष रूप से ध्यान रखना होगा। साथ ही ऐसे बच्चों की ओर भी खास ध्यान देना होगा जो पहले से किसी गंभीर बीमारी से ग्रस्त हों। ऐसे बच्चों का आंकड़ा अधिक नहीं मिलना चाहिए। उन्होंने कहा कि स्पष्ट तौर पर अभी कुछ नहीं कहा जा सकता। किंतु हमें सावधान रहने की आवश्यकता है।

प्रोफेसर डा. अग्रवाल ने जानकारी दी कि संभावनाओं के दृष्टिगत बीपीएस मेडिकल कालेज में पर्याप्त तैयारियां की गई हैं। बच्चों के लिए अलग से वार्ड भी स्थापित किया गया है। साथ ही उन्होंने लोगों का आह्वान किया कि वे आवश्यक रूप से मास्क व सोशल डिस्टेंसिंग की अनुपालना करें। एकजुट प्रयासों से कोरोना के संक्रमण पर लगाई गई लगाम लगी रह सकती है।

Related posts

गांव गढी ब्रहा्रमणान में पोषण पखवाड़ा शिविर आयोजित

Haryana Utsav

सुदेश ने संभाला गोहाना में महिला थाना का कार्यभार

Haryana Utsav

गोहाना में धूमधाम से मनाया जाएगा गणतंत्र दिवस

Haryana Utsav
error: Content is protected !!