Gohana

खेल-खेल में गेहूं की बोरियों के नीचे दबने से 9 साल के मासूम की मौत, दूसरा घायल

खेल-खेल में गेहूं की बोरियों के नीचे दबने से 9 साल के मासूम की मौत, दूसरा घायल
हरियाणा उत्सव, गोहाना

गोहाना के गांव रामगढ़ में एफसीआइ के गोदाम में गेहूं की बोरियों के नीचे दबने से एक 9 साल के मासूम की मौत होई और दूसरा घायाल हो गया। दोनों बच्चे खेलते हुए गोदाम में पहुंच गए और उन पर गेहूं बोरियां गिर गई। एक बच्चे के चिल्लाने की आवाज सुनकर दो सिक्योरिटी गार्ड मौके पर पहुंचे और बोरियां हटाकर दोनों बच्चों को निकाला। लेकिन तबतक एक बच्चे की मौत हो चुकी थी। मृतक के पिता ने गोदाम के सिक्योरिटी गार्ड पर लापरवाही का आरोप लगाया है। पुलिस ने शिकायत के आधार पर मामला दर्ज कर लिया।

गांव रामगढ़ के राजू ने पुलिस को बताया कि उसके बेटे 12 वर्ष का रोहित और नौ वर्ष का मंजीत घर पर थे। इसी दौरान उनके भाई का लड़का नौ वर्ष का कुनाल उनके घर आया। मंजीत और कुनाल खेलते हुए गांव के नजदीक एफसीआइ गोदाम में पहुंच गए। गोदाम में गेहूं का भंडारण किया गया है। गेहूं को बोरियों में भरकर चट्टे (ढेर) लगाए गए हैं। वहां चट्टे से गेहूं से भरी बोरियां गिर गई। मंजीत बोरियों के नीचे पूरी तरह दब गया, जबकि कुनाल पर बोरियां गिरी तो उसका मुंह बाहर रह गया। कुनाल के चिल्लाने की आवाज सुनकर दो सिक्योरिटी गार्ड मौके पर पहुंचे। उन्होंने बोरियां हटाकर कुनाल को निकाला। कुनाल ने बताया कि मंजीत बोरियों के नीचे दबा है। इसके बाद सिक्योरिटी गार्ड ने बोरियों को हटा कर मंजीत को निकाला। मंजीत को स्वजन बीपीएस राजकीय महिला मेडिकल कालेज के अस्पताल ले गए। वहां पर चिकित्सक ने उसे मृत घोषित कर दिया। राजू ने आरोप लगाया कि यह हादसा सिक्योरिटी गार्ड की लापरवाही से हुआ है। इस पर पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया। मंजीत चौथी कक्षा में पढ़ता था। ग्रामीणों ने आरोप लगाया कि अधिकारी गोदाम के सिक्योरिटी गार्डों से निगरानी के अलावा दूसरे काम भी करवाते हैं। जिस समय बच्चे गोदाम में गए, तब गेट पर सिक्योरिटी गार्ड नहीं था।

Related posts

जजपा की हवा बनाओ, हवा बनेगी तो राज आपका आएगा: अजय चौटाला

Haryana Utsav

-न्यू बीडीएस कोचिंग सेंटर में प्रश्रोत्तरी प्रतियोगिता के विजेताओं को किया सम्मानित

Haryana Utsav

गोहाना – बरोदा हलकों में जातिगत जनगणना कराएगा हीरोज संगठन

Haryana Utsav
error: Content is protected !!