Panipat

डिप्टी डीईओ कौशल्या आर्य पर बीईओ रहते गलत टीए बिल क्लेम का आरोप, चार्जशीट

Haryana Utsav

डिप्टी डीईओ कौशल्या आर्य पर बीईओ रहते गलत टीए बिल क्लेम का आरोप, चार्जशीट

हरियाणा उत्सव, बीएस बोहत

पानीपत: पानीपत समग्र शिक्षा की जिला परियोजना समन्वयक (डीपीसी) कौशल्या आर्या को चार्जशीट किया गया है। उन्हें मामले में अपना पक्ष रखने के लिए 15 दिन का समय दिया गया है। आरोप है कि उन्होंने खंड शिक्षा अधिकारी इसराना रहते हुए छुट्टी के दिन भी टीए क्लेम कर निकाला लिया। इतना ही नहीं, बल्कि उन्होंने जन्माष्टमी व रविदास जयंती के दिन राजकीय अवकाश होने पर भी स्कूलों का निरीक्षण दर्शा टीए क्लेम किया। मामले में विभागीय उच्च अधिकारियों के निर्देश पर डीईओ की ओर से जांच करा रिपोर्ट भेजी गई थी। जांच रिपोर्ट में कई बिंदु में गलत टीए क्लेम करना दर्शाया गया है।

शिक्षक ने की थी शिकायत:
-कार्रवाई शिक्षक धर्मेंद्र इंदौरा की शिकायत पर हुई थी जांच,
-छुट्टी के दिन भी निरीक्षण दिखा क्लेम किया
डीपीसी कौशल्या आर्या 17 जून 2014 से 12 सितंबर 2018 तक बीईओ इसराना के पद पर कार्यरत रही। इस दौरान स्कूलों के निरीक्षण को लेकर अलग-अलग टीए क्लेम किए। करीब दो साल बाद वार्ड 16, शिव कालोनी समालखा निवासी शिक्षक धर्मेंद्र इंदौरा ने 1 जून 2020 को मुख्य सचिव, हरियाणा सरकार को पत्र लिख डीपीसी पर बीईओ रहते नियमों के विरुद्ध टीए व डीए निकलवाने का आरोप लगा विजिलेंस से जांच कराने की मांग की। उस आधार पर उच्च अधिकारियों ने डीईओ को मामले की जांच करा रिपोर्ट मांगी थी।

डीईओ ने डीईईओ के नेतृत्व में जांच कमेटी गठित की। टीम ने रिकार्ड का अवलोकन कर 4 दिसंबर 2020 को डीईओ को जांच रिपोर्ट सौंप दी। रिपोर्ट के मुताबिक अधिकारी द्वारा अपने उच्च अधिकारियों से कोई कार्यक्षेत्र से बाहर की अनुमति नहीं ली व वित्तीय वर्ष के अंत में ग्रांट को खत्म करने के प्रयोजन से बिल निकलवाए।

इन बिंदुओं पर दर्शाई गई है अनियमितता

– सितंबर 2014 से मार्च 2015 तक 6320 रुपये के टीए बिल क्लेम किए गए। उसमें 27 यात्रएं दिखाई गई। 20 अक्टूबर 2014 को राजकीय स्कूल पूठर का टीए क्लेम किया गया जबकि उपस्थिति पंजिका के मुताबिक अधिकारी उस दिन आकस्मिक अवकाश पर थी। 3 फरवरी 2015 को हड़ताड़ी स्कूल का टीए क्लेम किया गया। उस दिन गुरु रविदास जयंती होने पर राजकीय अवकाश था।

– अप्रैल 2015 से नवंबर 2015 तक 6170 रुपये के टीए बिल क्लेम कर 28 यात्रएं दिखाई गई। 13 अप्रैल 2015 को राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय अहर का टीए क्लेम किया गया जबकि हलचल पंजिका के रिकार्ड अनुसार किसी अन्य स्थान का विवरण दर्ज है।

– दिसंबर 2015 से मार्च 2016 तक 5750 रुपये की टीए क्लेम कर 27 यात्रएं दिखाई गई। 22 जनवरी 2016 को राजकीय प्राथमिक पाठशाला नौल्था का टीए क्लेम किया जबकि उपस्थिति रजिस्टर के अनुसार अधिकारी को आन ड्यूटी निदेशक विद्यालय शिक्षा हरियाणा दिखाया गया। 18 फरवरी 2016 को अहर स्कूल यात्र का टीए क्लेम किया गया जबकि उपस्थिति रजिस्टर में अधिकारी को आन ड्यूटी डीईओ कार्यालय पानीपत में दिखाया गया।

– सितंबर 2016 से अप्रैल 2017 तक 2040 रुपये का टीए क्लेम कर छह यात्रएं दिखाई गई। टूर किए गए स्कूलों व कार्यालयों की दूरी 20 किलोमीटर के अंदर प्रतीत होती है। अधिकारी द्वारा डेली भी क्लेम किया गया।

-जून 2017 से दिसंबर 2017 तक 10880 रुपये के टीए बिल क्लेम कर 30 यात्रएं दिखाई गई। 13 अगस्त 2017 को जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय पानीपत का टीए क्लेम किया गया जबकि उस दिन रविवार था।

मैं अपना पक्ष रखूंगी
डीईओ कौशल्या आर्य ने कहा कि मामले में अभी तक मेरा कोई पक्ष नहीं जाना गया है। मैं अब अपना पक्ष रखूंगी। मैने कोई गलत टीए क्लेम नहीं किया है। रविवार व राजकीय अवकाश के दिन जो टीए क्लेम किया गया है, उस दौरान मेरे खंड में सक्षम का कार्य चल रहा था। हम 24 घंटे के नौकर हैं। किसी भी वक्त काम के लिए जाना पड़ सकता है।

Source- https://m.jagran.com

Related posts

कार में लगी आग, जींदा जले तीन दोस्त , मौत

Haryana Utsav

पानीपत : चार साल की बच्ची के साथ दरिंदगी

Haryana Utsav

पानीपत में 4 पुलिसकर्मी बर्खास्त, SI, ASI, मुंशी और सिपाही पर गिरी गाज

Haryana Utsav
error: Content is protected !!