February 29, 2024
GohanaHaryana

बर्खास्त पीटीआइ का दोबारा टेस्ट देने से इंकार

बर्खास्त पीटीआइ का दोबारा टेस्ट देने से इंकार

हरियाणा उत्सव,गोहाना: /सौ. दैनिक जागरण

हरियाणा शारीरिक शिक्षक संघर्ष समिति से जुड़े बर्खास्त पीटीआइ दोबारा प्रवेश परीक्षा नहीं देंगे। पीटीआइ ने कहा कि बर्खास्त किए गए शारीरिक शिक्षक सभी योग्यताएं पूरी करके सेवा में आए थे। उनको फिर से सेवा में आने के लिए दोबारा से परीक्षा देने का कोई औचित्य नहीं है। पीटीआइ द्वारा उपमंडलीय परिसर के सामने दिया जा धरना शुक्रवार को भी जारी रहा। धरने पर क्रमिक अनशन पर चार बर्खास्त पीटीआइ बैठे।

राज्य सरकार ने सर्वाेच्च न्यायालय के आदेश पर कुछ दिन पहले 1983 पीटीआइ को बर्खास्त कर दिया था। इसी के विरोध में बर्खास्त पीटीआइ अनिश्चितकालीन धरना दे रहे हैं। पहले धरना सोनीपत में दिया गया और एक सप्ताह से धरना गोहाना में चल रहा है। धरनास्थल पर शुक्रवार को अमरजीत, संदीप, सुदेश और प्रोमिला क्रमिक अनशन पर बैठे। धरने की अध्यक्षता समिति के जिला सोनीपत इकाई के अध्यक्ष नवीन मलिक ने की और संचालन साहब सिंह ने किया। नवीन मलिक ने कहा कि कुछ दिन पहले राज्य सरकार ने 1983 पीटीआइ को बर्खास्त कर दिया था। उन्होंने कहा कि अब सरकार ने बर्खास्त पीटीआइ को फिर से सेवा में लेने के लिए दोबारा प्रवेश परीक्षा देने की शर्त रखी है। परीक्षा 23 अगस्त को है। मलिक ने कहा कि बर्खास्त किए गए पीटीआइ सभी योग्यताएं पूरी करते हुए टेस्ट देकर सेवा में आए थे। बर्खास्तगी के बाद उनको फिर से सेवा में लेने के लिए दोबारा से टेस्ट लेने की शर्त का कोई औचित्य नहीं बनता है। मलिक ने कहा कि बर्खास्त पीटीआइ परीक्षा नहीं देंगे। धरने पर किसान सभा के नेता एडवोकेट श्रद्धानंद सोलंकी, हरियाणा विद्यालय अध्यापक संघ के जिला प्रधान संजीव मोर, रोहतास गंगाणा, धर्मपाल मलिक, रविद्र जठेड़ी, राहुल, साहब सिंह, विकास मलिक, रविद्र, बबीता मलिक, मोनिका, नीलम आदि पहुंचे।

Related posts

इनहांसमेंट के नाम पर सेक्टरवासियों को लूट रही सरकार

Haryana Utsav

बाबा मछंदर पुरी की भू-समाधि के बाद संतों के लिए लगाया भंडारा

Haryana Utsav

आहुलाना चीनी मिल को केंद्र सरकार से मिला सम्मान पत्र

Haryana Utsav
error: Content is protected !!