Delhi

5G सर्विस अगले साल से मिलेगी:अहमदाबाद, दिल्ली, मुंबई जैसे 13 शहरों से शुरुआत

विदेशी निवेश में 2014 से 2021 के बीच करीब 150% की ग्रोथ
हरियाणा उत्सव
नई दिल्ली: केंद्रीय दूरसंचार विभाग ने कहा है कि 5G सर्विस अगले साल से मिलने लगेगी। इसकी शुरुआत दिल्ली, मुंबई, कोलकाता, चेन्नई जैसे मेट्रो और गुरुग्राम, बेंगलुरु, अहमदाबाद, हैदराबाद और पुणे जैसे बड़े शहरों से होगी। सरकार अगले साल मार्च-अप्रैल में 5G स्पेक्ट्रम की नीलामी करेगी।

इस साल सितंबर में दूरसंचार विभाग ने टेलीकम्यूनिकेशन रेगुलेटर ट्राई से स्पेक्ट्रम नीलामी के लिए आरक्षित मूल्य, बैंड योजना, ब्लॉक साइज, स्पेक्ट्रम उपलब्धता पर सिफारिशें मांगी थीं। दूरसंचार सेवा प्रदाताओं (TSP) भारती एयरटेल, रिलायंस जियो और वोडाफोन आइडिया ने गुरुग्राम, बेंगलुरु, कोलकाता, मुंबई, चंडीगढ़ में 5जी ट्रायल साइट स्थापित की हैं। दिल्ली, जामनगर, अहमदाबाद, चेन्नई, हैदराबाद, लखनऊ, पुणे, गांधीनगर और ऐसे बड़े शहर हैं जहां अगले साल 5जी सेवा शुरू की जाएगी।

विदेशी निवेश में 2014 से 2021 के बीच करीब 150% की ग्रोथ
दूरसंचार क्षेत्र में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (Foreign Direct Investment) 2014 से 2021 के बीच करीब 150% बढ़कर 1,55,353 करोड़ रुपए पहुंच गया, जो 2002 से 2014 के दौरान 62,386 करोड़ रुपए था। इसमें कहा गया है कि दूरसंचार विभाग के वित्त पोषण वाली 5G परीक्षण प्रोजेक्ट अंतिम चरण में पहुंच गयी है।

5G टेस्टिंग में IIT कॉलेज का बड़ा योगदान
5G टेस्टिंग को करवाने वाली एजेंसियों में IIT मुंबई, IIT-दिल्ली, IIT-हैदराबाद, IIT-मद्रास, IIT-कानपुर, इंडियन इंस्टिट्यूट ऑफ साइंस बेंगलुरू (IISC) , सोसायटी फॉर एप्लॉयड माइक्रोवेव इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियरिंग एंड रिसर्च (SAMEER) और सेंटर फॉर एक्सिलेंस इन वायरलेस टेक्नोलॉजी (CEWiT) शामिल हैं। जो 36 महीने से काम कर रही हैं।

224 करोड़ का है प्रोजेक्ट
करीब 224 करोड़ रुपए की लागात वाली प्रोजेक्ट के 31 दिसंबर, 2021 तक पूरा होने की उम्मीद है। इससे देश में 5G यूजर्स डिवाइस और नेटवर्क डिवाइस की टेस्टिंग का रास्ता साफ होगा।

5G की स्पीड 4G से 10 गुना तेज
5G आने के बाद मोबाइल फोन की दुनिया बदल जाएगी। एक अनुमान के मुताबिक 5G की स्पीड 4G से 10 गुना तेज है। 5G सर्विस की शुरुआत डिजिटल क्रांति को एक नया आयाम देगी। इससे देश की अर्थव्यवस्था को फायदा होगा। ई-गवर्नेंस का विस्तार होगा। जिस तरह से कोरोना काल में हर कोई इंटरनेट पर निर्भर था। इसे देखते हुए, 5G के आने से सभी के जीवन को बेहतर और आसान बनाने में मदद मिलेगी। गांधी नगर में 5G जांच साइट स्थापित किए गए हैं।

SOURCE- https://www.bhaskar.com

Related posts

कांग्रेस का पीएम मोदी से सवाल, सब कुछ बेच दे रहे हैं तो भारत आत्मनिर्भर कैसे बनेगा?

Haryana Utsav

हरियाणा से पानी की जंग हुई तेज, सुप्रीम कोर्ट का रुख करेगा दिल्ली जल बोर्ड

Haryana Utsav

बीबीसी न्यूज ने हरियाणा उत्सव की कवरेज को सराहा

Haryana Utsav
error: Content is protected !!