February 28, 2024
DelhiTop 10

कौन था गैंगस्टर जितेंद्र गोगी, देखें गुनाहों की लिस्ट, हर्षिता हत्याकांड में था नाम

Jailed Gangster Jitender Gogi Murder: दिल्ली का बड़ा गैंगस्टर जितेंद्र गोगी गैंगवार में मारा गया है। रोहिणी कोर्ट के भीतर हुई गोलीबारी में उसकी मौत हो गई। हमलावर पहले से कोर्ट में मौजूद थे और गोगी को पेशी के लिए लाने जाने का इंतजार कर रहे थे। आखिर कौन था जितेंद्र गोगी जो 30 साल की उम्र में ही गुनाहों की दुनिया में कुख्यात हो गया था, जानते हैं। गोगी और टिल्लू गैंग के बीच अबतक कई बार गैंगवार हो चुका है जिसमें 12 से ज्यादा अपराधी मारे जा चुके हैं। अब इसी गैंगवार की भेंट खुद गोगी भी चढ़ गया। Who is Gangster Jitnedra Gogi

वॉन्टेड की लिस्ट में टॉप पर रह चुका गैंगस्टर जितेंद्र मान उर्फ गोगी (30) तिहाड़ जेल से दुबई के कारोबारी से 5 करोड़ की रंगदारी मांगने की वजह से भी सुर्खियों में था। वह जेल से ही रंगदारी, फिरौती के लिए अगवा करने और सुपारी लेकर मर्डर करने का काला कारोबार जारी रखा था।
जितेंद्र गोगी 3 बार पुलिस कस्टडी से फरार हो चुका था।गिरफ्तारी से पहले वहदिल्ली-हरियाणा पुलिस के लिए बड़ा सिरदर्द था। दिल्ली के अलीपुर का रहने वाला गोगी 30 जुलाई 2016 की सुबह बहादुरगढ़ में दिल्ली पुलिस की कस्टडी से फरार हो गया था। तब हरियाणा रोडवेज की बस से नरवाना कोर्ट में पेशी पर ले जाते वक्त बहादुरगढ़ में दो कारों में सवार 10 बदमाशों ने बस को ओवरटेक कर रुकवा लिया था।
पहले से ही बस में बैठे कुछ बदमाशों ने पुलिसकर्मियों की आंखों में मिर्च झोंक दी और फायर करते हुए गोगी को छुड़ाकर ले गए थे। गोगी पुलिसवालों के असलहे भी लूट ले गया था। इसके बाद गोगी अपने गुर्गों के साथ दिल्ली और हरियाणा में ताबड़तोड़ वारदातों को अंजाम देकर पुलिस को चुनौती देने लगा।
हरियाणवी सिंगर और डांसर हर्षिता दहिया की पानीपत में अक्टूबर 2017 में हत्या हुई। हर्षिता के जीजा दिनेश कराला ने गोगी को सुपारी दी थी। नवंबर 2017 में ताजपुर निवासी टीचर दीपक बालियान का स्वरूप नगर में मर्डर हुआ। जनवरी 2018 में अलीपुर के रवि भारद्वाज को 25 गोलियां मार छलनी कर दिया।
पानीपत में हर्षिता की 17 अक्टूबर, 2017 को गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। पूछताछ में आरोपित दिनेश ने खुलासा किया था कि उसने जेल में बैठकर हर्षिता के मर्डर की साजिश रची थी। उसका कहना है कि हर्षिता की वजह से ही उस पर दुष्कर्म, फिर उसकी मां प्रेमो के मर्डर का केस दर्ज हुआ था। हर्षिता इसमें मुख्य गवाह थी। इस हत्याकांड में जितेंद्र गोली उर्फ गोगी का भी नाम सामने आया था, इसके बाद पुलिस को उसकी लंबे समय से तलाश थी।
जून 2018 में बुराड़ी में टिल्लू गैंग से हुई गैंगवॉर में 4 लोग मारे गए और 5 जख्मी हुए। नरेला में अक्टूबर 2019 में आम आदमी पार्टी के नेता वीरेंद्र मान उर्फ कालू को 26 गोलियां मार मौत के घाट उतार दिया। इस साल 19 फरवरी को रोहिणी के कंझावला में आंचल उर्फ पवन की 50 राउंड फायरिंग कर हत्या की।[15:36, 9/24/2021] पत्रकार अमित सभरवाल: दिल्ली पुलिस ने गोगी पर चार लाख और हरियाणा पुलिस ने दो लाख का इनाम रख दिया। मकोका भी लगाया। आखिरकार दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने पिछले साल 3 मार्च को तीन गुर्गों समेत गोगी को गुड़गांव से दबोच लिया।
सेल ने अपने एके-47 से लैस स्वॉट स्क्वॉड के साथ घेरा डाला तो गोगी ने एनकाउंटर के डर से खुद सरेंडर करने का वीडियो वायरल कर दिया। कहा जाता है कि अगर वीडियो वायरल नहीं होता तो गोगी समेत चारों बदमाशों का एनकाउंटर तय था। गोगी के साथ उसके कुख्यात शार्पशूटर कुलदीप मान उर्फ फज्जा, रोहित उर्फ मोई और कपिल उर्फ गौरव भी हत्थे चढ़ गए। इन सभी पर मिलाकर 10 लाख 50 हजार का इनाम था।
कभी जिगरी यार रहे गैंगस्टर गोगी और टिल्लू ताजपुरिया के बीच 2010 में बाहरी दिल्ली के एक कॉलेज छात्र संघ चुनाव से रंजिश शुरू हुई, जो गैंगवार में तब्दील हो गई। इस खूनी खेल में अब तक दो दर्जन से ज्यादा लोग मारे जा चुके हैं। कुख्यात गैंगस्टर नीतू दाबोदिया 2013 में पुलिस एनकाउंटर में मारा गया।
दिल्ली का डॉन कहने वाला नीरज बवानिया भी जेल चला गया। इसके बाद गोगी और टिल्लू के बीच वर्चस्व की जंग तेज हो गई। करीब 7 साल से आउटर, रोहिणी, नॉर्थ वेस्ट, आउटर नॉर्थ जिले दोनों की गैंगवॉर का दंश झेल रहे हैं। टिल्लू भी तिहाड़ से ही गैंग ऑपरेट कर रहा है। अब जितेंद्र गोगी भी गैंगवार में मारा गया है और इसके पीछे टिल्लू ताजपुरिया गैंग को ही माना जा रहा था।

Related posts

कोरोना का पता लगाने के लिए CT-Scan करवाना कितना खतरनाक?

Haryana Utsav

न्यायालय ने 56 किलो सोने को सरकार काे सौंपने का दिया आदेश

Haryana Utsav

राहुल गांधी ने कहा- जो कृषि कानूनों को सही बता रहे हैं, वो क्या खाक किसानों के पक्ष में हल निकालेंगे

Haryana Utsav
error: Content is protected !!