Gohana

डा. ने बुजूर्ग का प्राथमिक उपचार किए बिना रोहतक ले जाने को कहा, डा. के खिलाफ विरोध प्रदर्शन

-डा. के खिलाफ कार्रवाई की मांग, पुलिस को दी शिकायत
हरियाणा उत्सव/ गोहाना
गोहाना: बुधवार देर रात को धरना स्थल पर जा रहे किसानों के साथ सड़क हादसा हो गया। हादसे में एक किसान की मौत हो गई और एक बुजूर्ग किसान गंभीर रुप से घायल हो गया। घायल किसान को पास लगते अस्पताल में लाया गया है। किसानों ने आरोप लगाया कि डा. ने घायल बुजूर्ग किसान का प्राथमिक उपचार किए बिना ही रोहतक पीजीआई ले जाने को कहा दिया। इसी के विरोध में बृहस्पतिवार को किसानों ने अस्पताल के सामने विरोध प्रदर्शन किया और चिकित्सक के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने की मांग की।

भारतीय किसान यूनियन के प्रदेश उपाध्यक्ष सत्यवान नरवाल ने कहा कि पंजाब के बरनाला जिले से किसान ट्रेक्टर-ट्राली में सवार होकर किसान धरना स्थल पर जा रहे थे। गोहाना-रोहतक हाई-वे स्थित गांव माहरा केनिकट ट्रक ने ट्रैक्टर को टक्कर मार दी। हादसे में बरनाला में गांव डेलवा केकिसान बलजीत की मौत हो गई, जबकि 80 वर्षीय बुजूर्ग किसान बलवंत घायल हो गया। उन्होंंने आरोप लगाया कि घायल किसान को गोहाना के गजराज अस्पताल में लाया गया था। यहां पर डा. ने बलवंत का उपचार नहीं किया। घायल किसान को बिना प्राथमिक उपचार दिए ही पीजीआइ रोहतक ले जाने को कह दिया। घायल किसान को प्राथमिक उपचार नहीं देने पर किसानों ने गजराज अस्पताल के बाहर विरोध किया। अस्पताल के संचालक डा. गजराज से माफी मांगने की मांग की। किसान नेता संदीप ऊर्फ भगत सिंह ने कहा कि पहले तो डा. ने कहा कि घायल किसान अस्पताल में आया ही नहीं, लेकिन बाद में किसान को अस्पताल लाए जाने की घटना को स्वीकार कर लिया। इससे डा की मनसा पर भी सवाल खडे होते हैं। किसानों ने श्हारी थाना में शिकायत दी कि डा पर एफआईआर दर्ज कर कानूनी कार्रवाई करने की मांग की है।

Related posts

समिति द्वारा घर-घर नहीं, बल्कि कांवड़ सेवा शिविर में ही स्वीकार किया जाएगा चंदा

Haryana Utsav

आहुलाना चीनी मिल में हवन कर बायलर में अग्रि प्रज्जवलीत की।

Haryana Utsav

किसानों को 25 करोड़ रुपये का भुगतान किया

Haryana Utsav
error: Content is protected !!