Gohana

लाला मातूराम हलवाई पर फायरिंग के विरोध में गोहाना पूर्णत्य बंद रहा।

Gohana Band

गोहाना बंद में छोटे से बडे व्यपारी ने दिया समर्थन
गोहाना में छोटी दुकान से बडे शोरूम रहे बंद
विरोध प्रदर्शन शांतिपूर्ण ढंग से सफल रहा।
विरोध प्रदर्शन पुरानी अनाज मंडी से शुरू होकर डॉ भीमराव अंबेडकर चौक पर संपन हुआ।
विरोध प्रदर्शन में हजारों की संख्या में लोग शामिल रहे।
हर व्यक्ति की जुबान पर आरोपियों को जल्द से जल्द गिरफ्तार किए जाने की मांग थी।
भयभीत व्यापारियों ने अपनी सुरक्षा के नारों के साथ विरोध जुलूस निकाला।
हाथ में लिए हुए तक्तियों पर लिखा था कि आश्वासन नही न्याय चाहिए, गुंडा गर्दी बंद करो, व्यपारियों और आम व्यक्ति को सुरक्षा मुहैया कराओ के नारे लगे।
विरोध प्रदर्शन के बाद पुलिस ने किया दावा, जल्द से जल्द आरोपियों को पकडने का दावा किया है।

हरियाणा उत्सव/ गोहाना (भंवर सिंह/ प्रीति सिंघल )

आपको बता दे कि पुरानी अनाज मंडी के नजदीक लाला मातूराम हलवाई की दुकान है। यहां पर 21 जनवारी को बदमाशों ने ताबडतोड गोलियां चलाई थी। दुकान संचालक और कर्मचारियों ने मेज के नीचे छीपकर जान बचाई थी। आरोपियों ने करीब 40 से 50 फायरिंग की। गनिमत रही कि फायरिंग में जान का नुकसान नहीं हुआ।
पुरे शहर में फायररिंग की चर्चा आग की तरह फैल गई।
स्थानिया पुलिस तुरंत एक्शन में आई और मौके पर पहुंची। आननफानन में पुलिस के बडे अधिकारी मौके पर पहुंचे। पुलिस ने मौके का मुआयना किया। पुलिस ने व्यपारियों और दुकानदारों को आश्वासन दिया कि आरोपियों को जल्द से जल्द गिरफतार कर लिया जाएगा। लेकिन हादसा हुए आज 30 जनवरी को दस दिन हो चुके हैं। वहीं पुलिस का दावा है कि इस मामले में तीन आरोपियों को गिरफतार कर लिया है। लेकिन व्यापारी वर्ग इससे आश्वासन से संतुष्ठ नहीं हैं।

आरोपियों को तुरंत पकडने और उन्हें सख्त सजा दिए जाने की मांग का लेकर मंगलवार को गोहाना बंद किया। गोहाना की सभी धार्मिक, सामाजिक, संगठन व सभी एसोसिएशनों के सदस्य व्यपारियों के समर्थन में आ गए हैं। सभी ने मिलकर मंगलवार को गोहाना बंद रखा। गोहाना में पूर्णत्य दुकाने बंद रही। यहां तक एक बीडी के बंडल की दुकान भी बदं रही। हजारों की संख्या में लोग पुरानी अनाज मंडी में एकत्रित हुए। वहां से होते हुए कालेज मोड, छोटूराम चौक, भगत सिंह चौक, शहीद चौक से होते हुए सिविल रोड उसके बाद डॉ भीम राव अंबेडकर चौक पर पहुंचे। वहां पर विरोध जुलूस को खत्म किया गया। आम तोर पर इस तरह के विरोध जुलूस में तोडफोड व पेड काटने की घटनाएं सामने आती हैं। लेकिन गोहाना बंद आनदोलन में इतनी भीड होने के बावजूद एक भी तोडफोड व नुकसान की बात सामने नहीं आई। यह हमारे लिए बहुत अच्छी बात रही। विरोध प्रदर्शन में सभी सरकार व पुलिस की सुस्त कार्यवाही से नाराज दिखाई दे रहे थे। जुलूस खत्म करने के बाद सभी लोगा वापस पुरानी अनाज मंडी में पहुंचे और आगे की रुपरेखा तैयार करनी शुरू कर दी। इस पूरे धरने प्रदर्शन की अध्यक्षता नई आनाज मंडी के प्रधान विनोद शहरावत ने की।

पुलिस ने जल्द से जल्द आरोपियों को पकडने का दावा किया है।

व्यापारियों ने पुलिस के अधिकारियों के आश्वासन पर खत्म किया धरना
व्यापारियों ने पुलिस अधिकारी नरेंद्र कुमार के आश्वासन पर धरने को एक सप्ताह के लिए टाल दिया है। नरेंद्र कुमार ने कहा कि इस मामले में तीन आरोपियों को पकड़ लिया है। उनसे गहनता से पूछताछ की जा रही है। बहुत जल्द ही पूरे मामले को आपके सामने खोल दिया जाएगा। व्यापारियों ने कहा कि एक सप्ताह के अंदर आरोपियों को पकडें। नहीं तो उसके बाद दोबारा से विरोध प्रदेर्शन को तेज किया जाएगा। इसके लिए व्यपारियों ने 11 सदस्य कमेटी का भी गठन किया है। सोमवार के बाद कमेटी आगे की रुपरेखा तैयार करेगी।

Related posts

Gohana: अतिरिक्त फीडर का काम शुरू, शुक्रवार तक रहेगी बिजली बाधित

Haryana Utsav

एसकेएस गोहाना की टीम ने आक्रोश रैली के लिए निमंत्रण दिया

Haryana Utsav

110 साल की दादी भरपाई देवी के हाथों कराया सेंटर का उद्धघाटन

Haryana Utsav
error: Content is protected !!